रविवार, 29 मार्च 2009

बालश्रम और भीख !

बस छोटी सी एक बात है जो देखने में अजीब लगती है पर अजीब तो न जाने क्या क्या होता रहता है
कभी कभी नीति नियंताओं की बातें समझ में नही आती
कभी कभी तो ख़ुद भी समझ में नही आता कि होना क्या चाहिए।
१४ वर्ष से कम उम्र के बच्चों का काम करना बाल श्रम कहलाता है उन्हें काम पे लगाने वाला दोषी होता है
अलबत्ता वो भीख मांगने के लिए छोड़ दिए जाते हैं
बालश्रम करने वाले बच्चे आगे चल कर कुछ काम तो कर सकते हैं
पर भीख मांगते बच्चे थोड़ा बड़े हो कर क्या करेंगे ।
क्या समाज और व्यवस्था कीजिम्मेदारी बालश्रम रोककर ख़त्म हो जानी चाहिए ?

Follow by Email